rajasthan मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना से मिल रहा है निःशुल्क उपचार,गरीबो में जगी इलाज की आस लाभार्थियो के खिलने लगे चेहरे..

0
9



jaipur 01 जून, 2021
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की महत्वकांक्षी योजना “chief minister chiranjeevi scheme“ का लाभ अब जोधपुर जिले के पंजीकृत पात्र लाभार्थियों को मिलना शुरू हो गया है। योजना के तहत निःशुल्क उपचार पाकर लाभार्थियों के चेहरे खिलने लगे है।

मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना एक मई, 2021 से प्रदेश भर में लागू होने के बाद अब पात्र लाभार्थियों को अपने इलाज के लिए सरकारी व योजना से जुड़े निजी अस्पतालों में भी बिना किसी खर्च के निःशुल्क इलाज सुलभ हो रहा है। योजना से जुड़ने के लिए पात्र लाभार्थी के अलावा 850 वार्षिक प्रीमियम देकर अपना पंजीकरण करवा सकते है और जिस दिन पंजीकरण होगा उसी दिन से योजना का लाभ मिलेगा। योजना में पंजीकृत प्रत्येक परिवार को योजना का लाभ मिलें, इसके लिये मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी विभाग तत्पर और सजग है। योजना से संबद्ध कोविड-19 उपचार के लिए अधिकृत किसी भी निजी अस्पताल द्वारा अगर पंजीकृत व्यक्तियो को निःशुल्क इलाज के लिये मना किया जाता है तो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही भी की जाएगी। योजना के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी या शिकायत के लिए टोल फ्री नम्बर 1800 180 6127 के साथ ही जिला स्तरीय सीएमएचओ कंट्रोल रूम नम्बर 0291-2511085 पर सम्पर्क किया जा सकता है।


निःशुल्क हड्डी के इलाज पाकर खुश है धर्मेंद्र


घोड़ों का चौक, जोधपुर निवासी धर्मेंद्र वैष्णव जो कि हड्डी की बीमारी से ग्रसित थे, उपचार के लिए निजी अस्पतालों में अधिक पैसे खर्च होने की बात सामने आ रही थी। इसी बीच मुख्यमंत्री द्वारा “मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना“ 01 मई, 2021 को लागू की गई। धर्मेंद्र बताते हैं कि उन्होंने रुपये 850 वार्षिक प्रीमियम देखकर योजना में अपना पंजीयन करवाया। इसके पश्चात योजना से जुड़े शहर के पावटा स्थित निजी अस्पताल मेडीहब में अपने हड्डी का इलाज निःशुल्क करवाया। वह बताते हैं कि मुख्यमंत्री द्वारा एक अनूठी योजना लागू की गई है जिसमे मध्यम वर्ग के लोगो का भी ख्याल रखा गया है, इसमे परिवार के सदस्यों व आय की को सीमा में बाधित नही किया गया। जो की आमजन को निरोगी रखने उद्देश्य से लागू की गई। यह महत्वकांक्षी योजना मील का पत्थर साबित हो रही है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री का तहदिल से आभार जताया।


योजना के तहत निःशुल्क जांच करवा नागौर की हेमलता के चेहरे पर आई मुस्कान


नागौर जिले के ताऊसर की रहने वाली हेमलता को मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में मुख्यमंत्री के ट्विटर हैंडल से हुई वह पात्र लाभार्थी की श्रेणी में नहीं थी। इसके लिए उन्होंने रुपये 850 का वार्षिक प्रीमियम देकर अपना पंजीकरण करवाया। हेमलता बताती है कि उनके पहला पुत्र थैलेसीमिया की बीमारी से पीड़ित था। हेमलता गर्भवती होने के चलते अपने गर्भ में पल रहे शिशु के थैलेसीमिया की बीमारी की जांच करवानी थी। इसके लिए वह जोधपुर के निजी वसुंधरा अस्पताल में अपनी जांच करवाई। वह बताती है कि गर्भ में शिशु (HPLC) जांच निःशुल्क हो गई और जांच में शिशु पूर्ण स्वस्थ पाया। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता के लिए यह योजना वरदान साबित हो रही है। जिले के इन निजी अस्पतालों में योजना के तहत मिल रहा हैं निःशुल्क उपचार


इस योजना का लाभ सरकारी अस्पतालों के साथ ही जोधपुर के निजी अस्पताल श्रीराम हॉस्पिटल, पाल रोड़, बोन एंड जॉइट, मेडिपल्स, खांगटा अस्पताल,एल एन मेमोरियल, राज हॉस्पिटल, कामदार आई हॉस्पिटल, डऊकिया, ग्लोबल, संचेती, शुभम, श्रीराम बनाड़ रोड, श्रीराम महामंदिर, राजस्थान हॉस्पिटल, भारत हॉस्पिटल, गट्टानी, माई खदीजा, कमला नगर, जीवन ज्योति नसिर्ंग हॉस्पिटल, सोना मेडीहब, गोयल, चन्द्र मंगल, टू एस वैलनेस हॉस्पिटल, प्रेक्षा व वसुंधरा अस्पताल आदि में योजना के तहत नियमानुसार निर्धारित पैकेजेज का निःशुल्क इलाज मिलना प्रारम्भ हो चुका है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here